HAPPY NEW YEAR 2023

Translate

Monday, 16 June 2014

चार दिनों में 20 हजार आवेदन पत्रों की स्केनिंग


प्रशिक्षु शिक्षक चयन 2011 रविवार को अवकाश के बावजूद डायट पर हुई स्केनिंग मैनपुरी (भोगांव): प्रशिक्षु शिक्षक चयन को लेकर शासन स्तर से आए फरमान का असर जनपद में भी दिखने लगा है। शिक्षक भर्ती प्रक्रिया से संबंधित आवेदनों की स्केनिंग का कार्य अंतिम चरण में पहुंच गया है। शासन के निर्देश पर चार दिन पहले शुरू हुई इस कवायद में अब तक डायट पर लगभग 20 हजार आवेदनों को स्केन कर लिया गया है। रविवार को अवकाश के बावजूद डायट पर यह काम चलता रहेगा। वहीं दूसरी ओर इस प्रक्रिया को लेकर शासन स्तर पर भी तेजी से काम हो रहा है। वर्ष 2011 में प्रदेश सरकार ने परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में रिक्त पदों पर शिक्षकों की भर्ती के लिए आवेदन मांगे थे। बीएड व टीईटी उत्तीर्ण आवेदकों ने आवेदन करने के बाद सपना संजोया था कि जल्द ही उन्हें शिक्षक बनने की खुशी मिलेगी लेकिन शासन स्तर पर लगातार हुई हीलाहवाली के चलते यह प्रक्रिया पिछले 3 वर्षो से तमाम प्रकार के झंझटों में उलझी हुई थी। सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद एक बार फिर इस प्रक्रिया में मई और जून माह में तेजी आई। विगत दिनों शासन द्वारा आवेदकों के नाम व मोबाइल नंबर का संकलन कर रिकॉर्ड डायट से 5 जून तक तलब किया गया था। इसके बाद विशेष सचिव बेसिक शिक्षा ने सभी आवेदन पत्रों को स्केन कर शासन को वेबसाइट के द्वारा भेजने के निर्देश विगत 10 जून को जारी किए थे। डायट प्राचार्य आरएस बघेल ने बताया कि रविवार को अवकाश के बावजूद स्केनिंग का कार्य कराया जाएगा और शासन को पूरा डाटा जल्द ही भेज दिया जाएगा। शनिवार से डाटा मर्ज हुआ शुरू प्रशिक्षु शिक्षक चयन को लेकर आवेदकों का डाटा वेबसाइट पर मर्ज करने में आ रही दिक्कत शनिवार से दूर हो गई। एनआइसी के सर्वर में आ रही परेशानी के चलते पिछले चार दिनों से किसी आवेदक का डाटा वेबसाइट पर समावेशित नहीं हो पा रहा था। लेकिन शनिवार से अचानक डाटा मर्ज करने में कर्मचारियों को सफलता हाथ लग गई। अगले 1-2 दिनों में सभी 25, 286 आवेदकों का डाटा वेबसाइट पर मर्ज कर दिया जायेगा।

No comments:

Post a Comment