Basic Ka Teacher.Com Welcomes you….बेसिक का टीचर. कॉम में आपका स्वागत है

Translate

Thursday, 19 June 2014

L T Grade, LT Grade Teacher Recruitment UP, LT Grade Teacher Uttar Pradesh,


LT Grade Teacher GIC Recruitment : यूपीः तीन साल बाद अब होगी 1425 शिक्षकों की भर्ती LT Grade Teacher GIC Recruitment : यूपीः तीन साल बाद अब होगी 1425 शिक्षकों की भर्ती बैठक में मांगा गया ब्यौरा राजकीय इंटर कॉलेजों में तीन साल पहले शुरू की गई शिक्षक भर्ती का रास्ता साफ हो गया है। प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा मनोज कुमार सिंह ने मंगलवार को निदेशालय में मंडलीय संयुक्त निदेशकों के साथ बैठक की। उन्होंने अधिकारियों से भर्ती प्रक्रिया की अब तक की प्रगति के बारे में जानकारी ली और कहा कि मंडलवार पूरा ब्यौरा शासन को उपलब्ध करा दिया जाए। इसके बाद नियुक्ति पत्र जारी करने के संबंध में शासनादेश जारी किया जाएगा 1425 शिक्षकों की होनी है भर्ती प्रदेश में तीन साल पहले राजकीय इंटर कॉलेजों में 1425 शिक्षकों की भर्ती के लिए मंडलवार विज्ञापन निकाल कर आवेदन लिए गए थे। आवेदन के आधार पर मंडलों में संयुक्त शिक्षा निदेशकों ने साक्षात्कार की प्रक्रिया भी पूरी कर ली थी, लेकिन हाईकोर्ट में मामला चले जाने के कारण भर्ती प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई। हाईकोर्ट के आदेश पर ही बाद में साक्षात्कार में सफल होने वालों के प्रमाण पत्रों का मिलान किया गया, फिर भी चयनितों को नियुक्ति पत्र नहीं दिया जा सका। प्रमुख सचिव ने मंगलवार को अधिकारियों के साथ बैठक कर वस्तुस्थिति की जानकारी ली। बताया जाता है कि मंडलवार चयनित शिक्षकों को जल्द ही नियुक्ति पत्र देने संबंधी शासनादेश जारी कर दिया जाएगा। इंटर कॉलेजों में होगी खुदरा कारोबार की पढ़ाई इंटर कॉलेजों के छात्रों को रोजगारपरक शिक्षा देने के लिए अब रिटेल ट्रेड (खुदरा व्‍यापार) की पढ़ाई भी कराई जाएगी। इसे शुरू करने से पहले इंटर कॉलेजों के प्रधानाचार्यों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। इसके लिए प्रधानाचार्यों के नाम मांगे गए हैं। अपर निदेशक व्यावसायिक शिक्षा शैल यादव ने इस संबंध में प्रधानाचार्यों को निर्देश भेज दिए हैं। माध्यमिक शिक्षा परिषद के सहायता प्राप्त और राजकीय इंटर कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों को वर्ष 1987 से व्यावसायिक शिक्षा देने की शुरुआत की गई 27 जून तक होगी ट्रेनिंग पहले चरण में राजकीय इंटर कॉलेजों में इसकी पढ़ाई शुरू की जाएगी। इसके बाद इसे सहायता प्राप्त इंटर कॉलेजों में शुरू किया जाएगा। इसे पढ़ाने के लिए अनुदेशकों को रखा गया है। इससे पहले प्रधानाचार्यों को पंडित सुंदर लाल शर्मा केंद्रीय व्यावसायिक शिक्षा संस्थान भोपाल में प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह प्रशिक्षण 27 जून तक चलेगा। प्रशिक्षण देने का मकसद यह है कि प्रधानाचार्य शिक्षकों को इसकी जानकारी देने के साथ पढ़ाई शुरू करा सकें

No comments:

Post a Comment