Basic Ka Teacher.Com Welcomes you….बेसिक का टीचर. कॉम में आपका स्वागत है

Translate

Wednesday, 21 September 2016

शेड्यूल न जारी होने से तबादलों में बीएसए की मर्जी पड़ रही भारी

21 September 2016

जिले के अंदर ट्रांसफर का आदेश तो हुआ जारी, लेकिन शेड्यूल न जारी होने से तबादलों में बीएसए की मर्जी पड़ रही भारी, शिक्षक नेताओं का आरोप -  भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के लिए बीएसए को दी गयी  खुली छूट

☀  शिड्यूल जारी नहीं, शिक्षकों के तबादले BSA भरोसे

☀  इसी का नतीजा है कि तबादले अब बीएसए अपनी मर्जी से कर रहे 

☀  शिक्षक नेताओं का आरोप है कि भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के लिए बीएसए को खुली छूट दी गई

लखनऊ: जिले के अंदर तबादलों के आदेश तो सरकार ने जारी कर दिए, लेकिन ये कब होंगे, इसका शिड्यूल जारी नहीं किया। इसी का नतीजा है कि तबादले अब बीएसए अपनी मर्जी से कर रहे हैं। करीब 10 जिलों के बीएसए ने अपने स्तर से कार्यक्रम जारी कर तबादला प्रक्रिया शुरू भी कर दी है। अन्य जिलों में अभी तबादला प्रक्रिया शुरू ही नहीं हुई है। इससे शिक्षक परेशान हैं। शिक्षक नेताओं का आरोप है कि भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के लिए बीएसए को खुली छूट दी गई है। 

अंतरजनपदीय तबादले पूरे होने के बाद सचिव बेसिक शिक्षा ने 30 अगस्त को जनपदीय तबादलों के आदेश कर दिए थे। इसमें कमिटी गठित करने के साथ ही प्रक्रिया की जानकारी दी गई थी, लेकिन शिड्यूल नहीं जारी किया गया था। उसके बाद बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव ने उसी आदेश को जिलों को भेज दिया था। वहीं, तबादलों का शिड्यूल अब तक जारी नहीं हुआ है। कुछ जिलों में बीएसए ने अपने स्तर से शिड्यूल तैयार कर के तबादले शुरू कर दिए हैं। 20 सितंबर तक आवेदन भी ले लिए हैं। साथ ही 30 सितंबर तक तबादले करने की तारीख तय की है। वहीं, कुछ जिले ऐसे भी हैं जहां अब तक आवेदन नहीं मांगे गए हैं। वहां के शिक्षक परेशान हैं। वे जल्द तबादले की मांग कर रहे हैं। 

No comments:

Post a Comment