Basic Ka Teacher.Com Welcomes you….बेसिक का टीचर. कॉम में आपका स्वागत है

Translate

Wednesday, 23 November 2016

गणित / विज्ञान सीधी भर्ती (29334 ) को सुरक्षित करने वाले कुछ बिंदु

Dhananjaya Kumar>>

गणित / विज्ञान सीधी भर्ती (29334 ) को सुरक्षित करने वाले कुछ प्वाइंट्स -----

1- मूल विज्ञापन ।
2- विज्ञापन व फार्म डालने के समय, 15 - 16 संशोधन जीवित ।
3- बारहवा संशोधन जब रद्द किया जा चुका था कोर्ट द्वारा
तब सरकार वर्तमान मे चल रहे नियम पर ही भर्ती करेगी न कि भूतपूर्व नियम पर ।

4- टेट मेरिट से प्राथमिक शिक्षक भर्ती हो रही थी ये उच्च प्राथमिक शिक्षक भर्ती है इसका विज्ञापन अलग है ।
5- ये विषय विशेष शिक्षक भर्ती है ।
6- 1981 सेवानियमावली के तहत भर्ती है ।
जब कि 72825 शिक्षक भर्ती सर्विस रूल फालो नही करती ।
7- TET शिक्षक पात्रता परीक्षा है न कि शिक्षक चयन परीक्षा ।
चयन परीक्षा हमेशा पद सृजित होने के बाद करायी जाती है । न कि दो साल पहले जब कि पदों का कोई अता पता न हो ।
8- अभ्यर्थी हमेशा पास होने के लिए कम तैयारी करता है
नौकरी मे चयन के लिए जी जान लगा देता है ।
9- खेल के बीच मे नियम नही बदले जाते ।
10- एनसीटीई का पैरा 9 ब थोपना ।
11- टेट वेटेज का अधिकार राज्य सरकार को देने न देने का अधिकार है को सबल करती विभिन्न आरटीआई ।
12- कोर्ट कन्टेम्प्ट के विभिन्न आर्डर जो हमे नियुक्त करने को दिए गए है ।
13- राजस्थान वाला सुप्रीम कोर्ट आर्डर ।
14- शिवकुमार शर्मा की नानटेट वाले आर्डर मे टेट वेटेज को बंध्य कराना ।
15- शिवकुमार पाठक की स्पेशल अपील मे संशोधन को निरस्त करने की प्रार्थना न होने के बावजूद जजो का 15 वा संशोधन रद्द कर देना ।
16- एन सी टी ई के वकील का गोल माल काउन्टर दाखिल करना ।
17- अन्य राज्यो मे हुई एकेडमिक आधार पर भर्तियो का सबूत रखना ।
18- केन्द्र द्वारा केन्द्रीय विद्यालय नवोदय विद्यालय शिक्षक भर्ती मे टेट वेटेज न देना ।
19- सुप्रीम कोर्ट द्वारा बारहवा बहाल न होना बल्कि पुराने विज्ञापन के आधार पर भर्ती को अंतरिम आदेश देना ।
20- जूनियर शिक्षको का परिवीक्षा काल पूरा होकर बेसिक शिक्षा परिषद नियमानुसार स्थायी नियुक्ति होना ।

और जो जिसको समझ मे आये , कृपया शेयर करे ।
ये सभी प्वाइंट्स हमारे वकीलो के दिमाग मे होने चाहिए ।

ये मेरी छोटी बुद्धि का छोटा प्रयास है, ताकि ये सब बिन्दु पुनः हमारे पैरवीकारो संघ / मोर्चा को ध्यान रहे ।

बाकि हमारे साथी अपना सब कुछ झोककर कोर्ट मे लगे हुए है ।

धन्यवाद

No comments:

Post a Comment