Basic Ka Teacher.Com Welcomes you….बेसिक का टीचर. कॉम में आपका स्वागत है

Translate

Thursday, 1 December 2016

15वां और 16वां संशोधन 4रद्द होने पर JRT मोर्चा की पोस्ट

साथियों नमस्कार,,,
🔵आज दिनांक 01/12/2016 को माननीय मुख्य न्यायाधीश कोर्ट द्वारा वंच मुकदमों पर रिजर्व आर्डर,,,, रिलीज किया गया,,, जिसमे .मुख्य अपील *657/2015 दीपक शर्मा Vs शिव कुमार पाठक केस जिस उद्देश्य के लिए गई थी , बह,,,,,, allow... मतलब मोर्चा परिवार की जीत आप सभी साथियों की जीत and आदेश करीब 20"से अधिक पेज का है सभी मुकदमें का अंतिम भविष्य सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पर निर्भर......  बाकी आदेश माननीय मुख्य न्यायाधीश पूरा नहीं पढ कर सुनाया गया,,,,,      आदेश मोर्चा परिवार अपील , *657/2015 दीपक शर्मा Vs शिव कुमार पाठक* पर आयेगा,,,,,
जैसा कि आप सभी को विदित है कि माननीय हाईकोर्ट में मुख्य न्यायाधीश कोर्ट में सभी वंच मुकदमों पर सुनवाई दिनांक 22-11-2016 से 24-11-2016 तक समय 2:00 pm से 4:00 pm तक की गई,,, और अंतिम दिन सभी मुकदमों पर बिना पूर्ण बहस के,, मुकदमों को माननीय सुप्रीम कोर्ट में हो रही बहस पर निर्भर करते हुए,,मौखिक रूप से ,, समाप्त कर दिया ..जिसको आप सभी आज तक.. case status ... के रूप में देख रहे थे,,,,,,
दूरदर्शी सोच रखने वाले मोर्चा परिवार लीगल टीम ने इस स्थिति हेतु पूर्व में ही civil appeal 4347-4375 में two I .A,, ,,,,, *309 & 310*already फाइल कर दी है,,,, (note - - कोई new I. A अब सुप्रीम कोर्ट में सिविल अपील में नहीं accept होगी,,,)..................
मोर्चा परिवार द्वारा फाइल की गयी महत्वपूर्ण,,SLP 18393 /2016 *Deepak Sharma Vs मूल विवाद* की सुनवाई आगामी *6 फरवरी* है,,,....
*मोर्चा परिवार*,, आंदोलन कराने से लेकर... *नियुक्ति* कराने तक.. एवं नियुक्ति से सभी मुकदमों के *समाप्तिकरण* तक.....मिशन *सफलता* रणनीतिपूर्वक आगे वढा है,,,, अभी तक रणनीति सफल होने में आप सभी का योगदान महत्वपूर्ण रहा है,,, और मोर्चा परिवार को यह पूर्ण विश्वास है कि न्याय के इस महायुद्ध में परिवार के आप सभी सदस्य एकजुट एवं साथ हैं,,,,,
सुप्रीम कोर्ट में------
याचना नहीं रण होगा,,,,,,,
          युद्ध बडा भीषण होगा,,,,,,,
गणित/विज्ञान नियुक्ति शिक्षक /शिक्षिकाए विरोधियों को समझांयेगे कि क्यों वह गणित/विज्ञान विषय को नहीं समझ पाये,,,,,,,,,,
शेष वाद में,,
धन्यवाद

जो सुधीर अग्रवाल ने कहा था की 16 अमेण्डेन्ट खत्म है उसे cj ने नहीं माना हमारी बड़ी जीत और slp आफ्टर सुप्रीम कोर्ट।

मुख्य बातें
🔴सुधीर अग्रवाल जी का 16 रद्द का ऑर्डर अभी मान्य नहीं।
🔴सुधीर जी के ऑर्डर के खिलाफ सारी स्पेसल अपीलें मान्य जो सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर तक साइन डाई रहेंगी।
🔴9b को सुप्रीम कोर्ट से निर्णीत कराने को बोला ।
         टेट वालो की बोलती बंद। हमारी हर बात सुनी गई कोर्ट में अब सब कुछ सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर पर निर्भर करेगा सब मिशन सुप्रीम कोर्ट के लिए तैयार हो जाये।

No comments:

Post a Comment