HAPPY NEW YEAR 2023

Translate

Monday, 2 April 2018

जांच में मिली क्लीन चिट, बीएसए एसके तिवारी बहाल

जांच में मिली क्लीन चिट, बीएसए एसके तिवारी बहाल
--–------------------------------------
जनपद-एटा

शिक्षामित्र द्वारा आत्महत्या किए जाने के मामले में विभिन्न आरोपों को लेकर निलंबित किए गए बीएसए एसके तिवारी को पुनः बहाली मिल गई है। उन पर लगाए गए आरोपों की जांच के बाद अधिकारियों द्वारा क्लीन चिट दिए जाने की स्थिति में यथा तैनाती निलंबन वापस लेते हुए बहाल किया गया है। 30 मार्च को वह पुन: पदभार ग्रहण करेंगे।

ज्ञात हो,-बीते महीने अवागढ़ क्षेत्र में तैनात शिक्षामित्र द्वारा आत्महत्या कर ली गई थी। आत्महत्या के पीछे *बीएसए* पर *लापरवाही* के अलावा *तमाम आरोप लगे* और *मामले* को *विधान परिषद* में *शिक्षक विधायक* जगवीर किशोर जैन ने उठा दिया।

वही *शासन* ने *आनन-फानन* में *बीएसए* एसके तिवारी को *बिना जांच* के ही 15 *फरवरी* को *निलंबित* कर दिया। उनके *निलंबन* के बाद *जनपद* के *शिक्षकों* और *शिक्षक संगठनों* ने *गलत तरीके* से किए गए *निलंबन* का *जमकर विरोध* तो किया ही, बल्कि शासन द्वारा नामित किए गए *जांच अधिकारी* एस राजलिंगम के एटा आने पर भी प्रदर्शन कर विरोध जताया तथा ज्ञापन भी दिया।

इसके *बाद* से *चल रही जांच* को *पूरा होने* के बाद *रिपोर्ट शासन* को सौंपी गई।

*जांच* में *निलंबित बीएसए* पर लगाए गए *आरोप पूरी गलत* साबित हुए, जिसके बाद उन्हें *मामले* में *क्लीन चिट* दी गई। *शासन* को *जांच रिपोर्ट* मिलने के बाद *बेसिक शिक्षा विभाग* के *विशेष सचिव देव प्रताप सिंह ने उनका निलंबन निरस्त करते हुए उन्हें पुन: जनपद में ही पद पर बहाल करने का आदेश दिया है।

आदेश की जानकारी जिला मुख्यालय पर मिलने के बाद जिले के शिक्षकों में एक खुशी की लहर दौड़ उठी।

No comments:

Post a Comment