Basic Ka Teacher.Com Welcomes you….बेसिक का टीचर. कॉम में आपका स्वागत है

Translate

Sunday, 24 March 2019

UPSESSB: एफिलिएटेड प्राइमरी विद्यालयों में लिखित परीक्षा से होगी शिक्षक भर्ती

UPSESSB: एफिलिएटेड प्राइमरी विद्यालयों में लिखित परीक्षा से होगी शिक्षक भर्ती




   


उत्तर प्रदेश के सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों से संबद्ध प्राइमरी स्कूलों में शिक्षकों का चयन अब उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड करेगा। शिक्षकों की भर्ती के लिए लिखित परीक्षा कराई जाएगी और साक्षात्कार को पूरी तरह समाप्त कर दिया गया है। इसके लिए चयन बोर्ड की नियमावली में 18 फरवरी को संशोधन किया गया है। 


संशोधन होने के बाद प्रदेश के कई जिलों में संबद्ध प्राइमरी स्कूलों में भर्ती के लिए जारी विज्ञापन को निरस्त कर दिया गया है। संबद्ध प्राइमरी स्कूलों में अब तक प्रबंधक नियुक्ति करते थे और उसके लिए जिला विद्यालय निरीक्षक अनुमति देते थे। इन स्कूलों में नियुक्तियों में लाखों रुपये का खेल होता है। भ्रष्टाचार के आरोप भी लगते रहे हैं।



उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (ठकुराई गुट) के प्रदेश महामंत्री लालमणि द्विवेदी का कहना है कि 7 मई 2017 को ठकुराई गुट ने उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के साथ प्रथम वार्ता में ही इस मांग का लिखित प्रस्ताव दिया गया था। 

इस संशोधन से विद्यालयों के प्रबंधकों व शिक्षाधिकारियों के बीच सांठगांठ से चल रहे पदों के लूट तंत्र और भ्रष्टाचार पर रोकथाम हो सकेगी तथा मेधावी युवकों को रोजगार के अवसर मिलेंगे।

प्रधानाचार्यों की भर्ती को परीक्षा कराने की मांग
प्रयागराज। सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्यो तथा प्रधानाध्यापकों की भर्ती भी लिखित परीक्षा के आधार पर कराने की मांग उठी है। ठकुराई गुट के प्रदेश महामंत्री लालमणि द्विवेदी का कहना है कि प्रधानाचार्यों के पद पर सिर्फ साक्षात्कार के जरिए भर्ती होती है। इसमें लंबे समय से भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे हैं।

आंकड़ों पर एक नजर
प्रदेश में संबद्ध प्राइमरी स्कूलों की संख्या: 573 (316 बालक और 257 बालिका)
जिले में संबद्ध प्राइमरी स्कूलों की संख्या: 51 (30 बालक और 21 बालिका)

No comments:

Post a Comment