HAPPY NEW YEAR 2023

Translate

Monday, 3 June 2019

वेतन भुगतान मामले में बलिया के बीएसए निलंबित

*_एक और निलम्बन_*
*वेतन भुगतान मामले में बलिया के बीएसए निलंबित*

बीएसए संतोष कुमार राय द्वारा श्रीनाथ बाबा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्राइमरी प्रभाग में 11 में से नौ शिक्षकों की बिना अनुमोदन आदेश के ही आपसी मिलीभगत कर प्रथम वेतन भुगतान की अनुमन्यता निर्गत किए जाने आदि गंभीर अनियमितताओं के मामले में प्रथम दृष्टया उन्हें दोषी पाया गया है। बीएसए को उप्र सरकारी सेवक (अनुशासन एवं अपील) नियमावली-1999 के नियम-4 के अंतर्गत तात्कालिक प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।...

जागरण संवाददाता, बलिया : बीएसए संतोष कुमार राय द्वारा श्रीनाथ बाबा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्राइमरी प्रभाग में 11 में से नौ शिक्षकों की बिना अनुमोदन आदेश के ही आपसी मिलीभगत कर प्रथम वेतन भुगतान की अनुमन्यता निर्गत किए जाने आदि गंभीर अनियमितताओं के मामले में प्रथम दृष्टया उन्हें दोषी पाया गया है। बीएसए को उप्र सरकारी सेवक (अनुशासन एवं अपील) नियमावली-1999 के नियम-4 के अंतर्गत तात्कालिक प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। साथ ही उनके विरुद्ध कार्रवाई की संस्तुति करते हुए महामहिम राज्यपाल के आदेश से उनके विशेष सचिव आनंद कुमार सिंह ने उनके अनुशासनिक कार्रवाई के संपादन के लिए मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक गोरखपुर मंडल, गोरखपुर का पदेन जांच अधिकारी नामित किए जाने की स्वीकृति प्रदान की है। उक्त पत्र की प्रति जिलाधिकारी सहित सभी संबंधित अधिकारियों को भी भेज दी गई है। अभी और लोगों पर भी गिर सकती गाज

बीएसए के निलंबन की खबर से पूरे विभाग में अचानक भूचाल आ गया है। बिना अनुमोदन वेतन भुगतान के मामले में अभी और लोगों पर भी कार्रवाई की गाज गिर सकती है। विभाग में चर्चा है कि इस मामले में और दो लोगों के गर्दन पर भी तलवार लटकी है। बेसिक शिक्षा विभाग में केवल यही एक मामला नहीं है। विद्यालयों मान्यता देने से लेकर भवन निर्माण, एमडीएम आदि में भी कई तरह के घालमेल भरे पड़े हैं। सबसे बड़ा मामला तो यह है कि जिले में बहुत से शिक्षक कागज में ही नौकरी करते हैं। वे किसी दूसरी प्रतियोगिता की तैयारी बाहर रह कर करते हैं और अपने स्थान पर किसी और को रख कर विद्यालय में काम चलाते हैं। इसके बावजूद भी ऐसे शिक्षकों को वेतन मिल जाता है। ऐसे अधिकतर मामले बैरिया तहसील क्षेत्र में भरे पड़े हैं।

No comments:

Post a Comment