HAPPY NEW YEAR 2023

Translate

Monday, 23 April 2018

Advt.

SSC CHSL 2018 answer keys हुर्ई जारी

SSC CHSL 2018 answer keys हुर्ई जारी

 
SSC CHSL 2018: कर्मचारी चयन आयोग ने कंबाइंड हायर सेकेंड्री लेवल (10+2) परीक्षा की आंसर-की जारी कर दी गई है। यह कंप्यूटर बेस्ड परीक्षा 4 मार्च से 26 मार्च 2018 तक आयोजित हुई थी। परीक्षार्थी ssc.nic.in पर जाकर आंसर-की चेक कर सकते हैं। टायर 1 परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों को टायर-2 परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा। टायर-2 परीक्षा की संभावित तिथि 8 जुलाई 2018 है। इस बार 3,259 पदों पर भर्तियां निकाली गई हैं।

अगर किसी प्रश्न के उत्तर को लेकर किसी उम्मीदवार को कोई आपत्ति है तो वह 23 अप्रैल तक अपनी आपत्ति दर्ज करवा सकते हैं। 

SSC CHSL 2018 Answer Keys: यूं करें चेक
- एसएससी की आधिकारिक वेबसाइट ssc.nic.in पर जाएं
- ‘SSC CHSL answer key’ पर क्लिक करें 
- इसे डाउनलोड कर इसका प्रिंट आउट ले सकते हैं। 

SSC CHSL 2018: यूं होगा चयन 
टायर-1 (200 अंकों की कंप्यूटर बेस्ड परीक्षा) में पास होने वाले उम्मीदवारों को अब टायर-2 परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा। 1 घंटे का ये टेस्ट पेन एंड पेपर बेस्ड होगा। 1 घंटे का यह पेपर डिस्क्रिप्टिव होगा। यह स्टेज पास करने वाले उम्मीदवार स्टेज तीन में जाएंगे। स्टेज तीन में स्किल टेस्ट (टाइपिंग) होगा। 

फिजियोथेरेपी डिग्री कोर्सों में योग डिप्लोमा वालों उम्मीदवारों को मिलेगी प्राथमिकता

फिजियोथेरेपी डिग्री कोर्सों में योग डिप्लोमा वालों उम्मीदवारों को मिलेगी प्राथमिकता

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने योग का डिप्लोमा रखने वालों को फिजियोथेरेपी के डिग्री कोर्सों में प्रवेश के लिए प्राथमिकता देने का फैसला किया है।

एक विशेषज्ञ समिति की सिफारिश के बासद फैसला किया गया जिसमें सुझाव दिया गया था कि योग में विशेषज्ञता रखने वालों को दाखिले में प्राथिमिकता दी जाए। यह उस शर्त के आधार पर हो कि प्रवेश परीक्षा में हासिल किए गए अंक एवं पात्रता की दूसरी शर्तें योग की विशेज्ञषता ना रखने वाले किसी उम्मीदवार की योग्यताओं के बराबर है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सिफारिशें मंजूर कर लीं।

यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालयों को एक पत्र भेजा जिसमें कहा गया कि योग में एक साल का डिप्लोमा रखने वाले उम्मीदवार को दाखिले में प्राथमिकता दी जा सकती है और यह उस शर्त के आधार पर होगी कि किसी उम्मीदवार को प्रवेश परीक्षा में मिले अंक एवं पात्रता की शर्तें योग की विशेषज्ञता के बिना उसी तरह की योग्यताएं रखने वाले उम्मीदवार के बराबर हों।

यूजीसी ने विश्वविद्यालयों से दाखिले की प्रक्रिया के दौरान सभी सिफारिशों पर ध्यान देने को भी कहा। मई, 2016 में यूजीसी ने विश्वविद्यालयों से फिजियोथेरेपी के स्नातक एवं स्नातकोत्तर के डिग्री पाठ्यक्रमों में योग के शिक्षण और प्रशिक्षण का मॉड्यूल शामिल करने को कहा था।

JEE Main Result 2018 likely to be announced by April 30, JEE Advance Exam on May 20

JEE Main Result 2018 likely to be announced by April 30, JEE Advance Exam on May 20



JEE Main 2018: The JEE Main 2018 Result is likely to be announced by April 30 by the Central Board of Secondary Education (CBSE). The board conducted the JEE Main 2018 online examination on April 15 and 16 and the offline examination on April 8. After the formal declaration of the JEE Main Results 2018, the scorecards will be available on the official website of the board i.e. www.results.nic.in and jeemain.nic.in. JEE Advanced 2018 exam will be conducted on May 20, 2018. The online registration for JEE Advanced 2018 exam will begin on May 2, 2018. According to the latest reports, the CBSE will release the official answer keys of the examination for the students before the declaration of the results.

It is often been seen that students face lots of confusion and difficulty while checking the JEE Main 2018 Results. In order to have a smooth and easy access to the results, we request the students to follow the said process. Find the direct link to JEE mains result at the top of this page / here then provide and the details in the form. Click on submit to get your JEE mains results 2018. It is very important for the students to save the PDF format of the scorecard and few copies of the same for future references.


The JEE Main Results 2018 is considered one of the important examinations in India. The score of JEE Main Results will enable the students to apply to prestigious colleges across the country. In order to get admission in any of these colleges in India, the candidates are required to submit the admission application along with the valid JEE main Result 2018 score and counseling fee through the JEE main official website.

Earlier, there was a report which suggested that 7-8 questions out of the 90 questions of the paper were carried from a model paper of a coaching institution by the name of Narayana Academy. However, the CBSE had later issued a statement denying the report. The first phase of the 6th edition of Joint Entrance Examination (Main) 2018 offline exam was held on April 8, 2018. According to the sources approximately 10,43,739 lakh candidates registered for admission to Undergraduate Engineering Programmes in NITs, IIITs and other Centrally Funded Technical Institutions etc.

 

KVS Delhi Recruitment 2018 for 36 Non Teaching Post

KVS Delhi Recruitment 2018 for 36 Non Teaching Post

Kendriya Vidyalaya Sangthan (KVS) invited Online applications for Finance Officer and Section Officer. Eligible candidates can apply for the post in the prescribed format on or before 02 May 2018.

Important Dates

Starting Date for Online Application - 18 April 2018

Last Date of Online Application - 02 May 2018

Date of Computer Test - 06 June 2018

Kendriya Vidyalaya Vacancy Details

Finance Officer - 15 Posts

Section Officer - 21 Posts

Eligibility Criteria for Non-Teaching Post

Educational Qualification and Experience:

Finance Officer - Assistant with 4 years regular service in the grade in KVS

Section Officer - Assistant/Steno Gr.1/Hindi Translator Graduation and 4 years of experience

How to Apply for Kendriya Vidyalaya Non-Teaching Jobs 2018

The Eligible candidates can apply to the post in the prescribed format on the official website www.kvsangthan.nic.in from 18 April 2018 to 02 May 2018.

DHE Goa Recruitment 2018: 277 Vacancies for Assistant Professor, Director and Librarian Post

DHE Goa Recruitment 2018: 277 Vacancies for Assistant Professor, Director and Librarian Post

Directorate of Higher Education, Goa invited applications for the recruitment to the post of Assistant Professor, College Director of Physical Education and Librarian in the Government Colleges of Arts, Science & Commerce at Sanquelim, Sant Sohirobanath Ambiye Government College of Arts and Commerce, Pernem; Government College of Commerce and Economics, Margao; Goa College of Home Science, Panaji and Goa College of Music, Panaji. Eligible candidates can apply for the post in the prescribed format on or before 07 May 2018.

Important Date

Last Date for Submitting Online Application - 07 May 2018

Last Date for Submitting Hard Copy of Online Application - 08 May 2018

DHE Goa Vacancy Details

Total Posts - 277

Contract Basis

Commerce (Accounting) :  13 Posts

Commerce (Management) : 05 Posts

Commerce (Costing) : 02 Posts

Maths : 08 Posts

Economics : 10 Posts

Geography  : 10 Posts

Comp. Science/IT :  05 Posts

Botany : 06 Posts

Zoology : 05 Posts

Chemistry (Organic) : 04 Posts

Chemistry (Inorganic) : 04 Posts

Chemistry (Physical) : 06 Posts

Chemistry (Analytical) : 01 Post

Physics : 05 Posts

Sociology : 01 Post

Microbiology :  03 Post

History : 01 Post

Hindi  :   05 Posts

Konkani : 04 Posts

English : 08 Posts

Marathi : 05 Posts

Political Science : 04 Posts

Psychology : 02 Posts

College Director of Physical Education : 02 Posts

Librarian : 02 Posts

Text. & Clot. :  01 Post

Human Development :  02 Posts

Vocal :  05 Posts

Tabla : 04 Posts

Harmonium :  03 Posts

Tabla Accompanist : 04 Posts

Family Resource Management : 01 Post

Ext. Education & Communication : 01 Post

Lecture Basis

Business Law : 05 Posts

Commerce (Accounting) : 12 Posts

Commerce (Management) : 07 Posts

Maths : 09 Posts

Economics : 05 Posts

Geography  : 08 Posts

Comp. Science/IT :  05 Posts

Botany : 03 Posts

Zoology : 05 Posts

Chemistry (Organic) : 06 Posts

Chemistry (Inorganic) : 05 Posts

Chemistry (Physical) : 02 Posts

Physics : 06 Posts

Geology : 02 Posts

Sociology : 01 Post

Microbiology :  01 Post

History : 05 Posts Posts

Hindi  :   11 Posts

Konkani : 06 Posts

English : 09 Posts

Marathi : 08 Posts

Political Science : 05 Posts

Psychology : 01 Post

Indian Culture & Art : 01 Post

Environmental Studies : 03 Posts

Violin : 01 Post

Guitar : 01 Post

Key Board : 01 Post

Music Teacher (Vocal) Diploma : 01 Post

Eligibility Criteria for Assistant Professor, Director and Librarian Post

As prescribed by the UGC Regulatons No.F-3-1/2009 dated 30th June, 2010 and Recruitment Rules approved by the Government of Goa and notfed in Ofcial Gazete Series I No. 20 dated 18/08/2011.For more information, check detailed notification given below

How to Apply for DHE Goa Jobs 2018

The Eligible candidates can apply online through official website www.dhe.goa.gov.in. on or before 07 May 2018 till 05.00 PM. A printout of online application along with self attested Xerox copies of the marksheets, experience certificates and caste certificate, if any, must be submitted to the office of the Directorate of Higher Education, DTE Complex, Alto- Porvorim-Goa, PIN 403521 on or before 08 May 2018

10वीं पास के लिए ISRO मैं नौकरी का मौका, बड़ी आवेदन की अंतिम तिथि

10वीं पास के लिए ISRO मैं नौकरी का मौका, बड़ी आवेदन की अंतिम तिथि


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने टेक्नीशियन के पदों के लिए वैकेंसी निकाली है। इन पदों पर 10वीं पास और संबंधित ट्रेड में पूर्णकालिक डिप्लोमा धारक उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने के लिए उम्मीदवार वेबसाइट पर जाएं और दिए गए निर्देशों के अनुसार ऑनलाइन आवेदन करें और उसके बाद आवेदन पत्र के प्रिंटआउट को सुरक्षित रख लें। 

Indian Space Research Organisation (ISRO)

वेबसाइट: www.sac.gov.in 

कुल पद: 78 

पद का विवरण: तकनीशियन ’बी’ 

शैक्षणिक योग्यता: मान्यता प्राप्त संस्थान से 10वीं परीक्षा उत्तीर्ण व संबंधित ट्रेड में पूर्णकालिक डिप्लोमा। 
अंतिम तिथिः 11 मई, 2018 

आयु सीमा: उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 18 वर्ष व अधिकतम आयु 35 वर्ष निर्धारित की गई है। 

ऐसे करें आवेदनः उम्मीदवार वेबसाइट पर जाएं और दिए गए निर्देशों के अनुसार ऑनलाइन आवेदन करें और उसके बाद आवेदन पत्र के प्रिंटआउट को सुरक्षित रख लें। 

चयन प्रक्रियाः लिखित परीक्षा और कौशल परीक्षा के आधार पर 

Advt.

Saturday, 21 April 2018

अब सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले गुरुजी की छुट्टी भी होगी आनलाईन

अब सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले गुरुजी की छुट्टी भी होगी आनलाईन

सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को बगैर अवकाश लिये स्कूल से नदारद रहने वाले शिक्षकों के लिए ऐसा करना अब आसान नहीं रहेगा।
शिक्षकों को अवकाश देने के लिए मोबाइल एप व पोर्टल बनाया गया है। शिक्षक को छुट्टी लेने के लिए पोर्टल व मोबाइल एप पर जानकारी देनी होगी। बगैर पोर्टल पर छुट्टी लिए शिक्षक स्कूल से गैरहाजिर पाये जाते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
बेसिक शिक्षा अधिकारी व खंड शिक्षा अधिकारियों के औचक निरीक्षण के दौरान अक्सर पाया जता है कि कुछ शिक्षक बगैर अवकाश लिए ही स्कूल से नदारद रहते हैं। लगातार शिकायतें मिलने के बाद शासन ने शिक्षकों को दिये जाने वाले अवकाश की प्रक्रिया में बदलाव किया है। शिक्षकों द्वारा लिये जाने वाले अवकाश को पारदर्शी बनाने के लिए शिक्षा विभाग ने आनलाईन पोर्टल व मोबाइल एप तैयार किया है।
शिक्षकों को आकस्मिक अवकाश लेने के लिए पोर्टल पर आनलाईन प्रार्थना पत्र दर्ज कराना होगा। आनलाईन छुट्टी दर्ज कराने के बाद ही शिक्षक स्कूल से नदारद रहेंगे। विभागीय द्वारा औचक निरीक्षण के दौरान अगर बगैर छुट्टी दर्ज कराए शिक्षक स्कूल से नदारद मिलते हैं तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।
बीएसए व खंड शिक्षा अधिकारियों को दी पोर्टल के उपयोग की जानकारी
संभल। शिक्षा विभाग ने शिक्षकों की छुट्टी को पारदर्शी बनाने के लिए http:betleaves.com पोर्टल बनाया है। बेसिक शिक्षा अधिकारी व खंड शिक्षा अधिकारियों को इस पोर्टल का कैसे उपयोग करना है। इसके लिए शिक्षा विभाग ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को विवरण पत्र भेजा है। वहीं बीएसए व बीईओ को पासवर्ड भी भेज दिया है। अपर शिक्षा निदेशक रुबी सिंह ने एक बार उपयोग करने के बाद पासवर्ड बदलने के निर्देश दिये हैं।

Thursday, 19 April 2018

जानें नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) क्या है

जानें नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) क्या है

नेशनल पेंशन स्कीम सरकार की पहल है
यह योजना सभी के लिए खुली
NPS में है कर छूट की व्यवस्था.

नई दिल्ली: हर नौकरीपेशा की नौकरी के कुछ साल में यह चिंता हो जाती है कि आज तो ठीक है, लेकिन जब नौकरी नहीं होगी तब आय कैसे होगी. यानी रिटायरमेंट के बाद की आय की चिंता. इसका समाधान एनपीएस (नेशनल पेंशन स्कीम) के जरिए किया जा सकता है. एनपीएस का मतलब है नेशनल पेंशन स्कीम. एनपीएस एक पेंशन योजना है. इस योजना में अपने रिटायरमेंट के बाद के जीवन के लिए निवेश किया जाता है. व्यक्ति के निवेश और उस पर मिलने वाले रिटर्न से एनपीएस खाता बढ़ता है.
रिटायर होने के बाद इसी पैसे से सरकार पेंशन देती है. यहां पर रिटायरमेंट की उम्र को 60 साल माना जा रहा है. रिटायर होने पर या 60 वर्ष की आयु के होने पर खाता बंद करने का विकल्प होता है. खाता बंद करते समय एक मुश्त या जरूरत के हिसाब से रुपया भी निकाला जा सकता है. बचे हुए पैसे से एक वार्षिकी उत्पाद (annuity plan) खरीदना पड़ता है. ध्यान दें पूरी राशि का इस्तेमाल भी एन्युटी प्लान भी खरीद सकते हैं. एन्युटी प्लान (वार्षिकी) क्या के तहत एक बीमा कंपनी को एक मुश्त पैसा दिया जाता है और इसके बदले वह कंपनी पूरी ज़िन्दगी पेंशन देनी की व्यवस्था करती है. इसे ऐसे भी समझा जा सकता है कि अगर इस खाते में 10 लाख रुपये हैं और उस समय ब्याज 6 प्रतिशत है. कंपनी 10 लाख रुपये लेकर आपको आजीवन हर वर्ष 60,000 (10 लाख X 6%) रुपये देगी. अगर मासिक आय का विकल्प चुना जाता है, तब हर महीने 5,000 रुपये मिलेंगे.
एक बात और, वार्षिकी या एन्युटी प्लान कई स्वरूप में आते हैं. जैसे की आप चाहें तो आपके बाद आपके पति या पत्नी को भी पेंशन जारी रह सकती है.आप अपनी ज़रूरत के अनुसार विकल्प चुन सकते हैं.
एनपीएस में चार सेक्टर होते हैं
एनपीएस खाता खोलने के कई तरीके हैं. आप किस तरीके से खाता खोलते हैं, उस बात से तय होता है, कि आप कैसे एनपीएस के तहत आते हैं.

केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों के लिए

राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए

निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए

आम नागरिकों (सिटीजन) के लिए

हकीकत यह है कि इन खातों में ज्यादा अंतर नहीं है. अगर नियोक्ता से भी योगदान चाहिए, तो उनके अनुसार एनपीएस खाता खोलना होगा या फिर पुराने खाते की जानकारी देनी होगी. सरकारी एनपीएस खातों में निवेश के नियम कुछ अलग होते हैं. 

एक आदमी एक ही एनपीएस खाता खोल सकता है. जब कोई एनपीएस अकाउंट खोलता है, तो उसे एक PRAN (Permanent Retirement Account Number) मिलता है. एक व्यक्ति के पास केवल एक ही PRAN हो सकता है. इसका मतलब दूसरा PRAN नहीं खोला जा सकता है. PRAN पूरी तरह पोर्टेबल है. यानी अगर एनपीएस अकाउंट शिफ्ट करना है, तो नया अकाउंट खोलने की ज़रूरत नहीं है. पुराने खाते को ही शिफ्ट किया जा सकता है. 
किसी बैंक शाखा में जाकर एनपीएस खाता खोला जा सकता है. आधार की मदद से भी एनपीएस खाता खोला जा सकता है.
एनपीएस में दो तरह के अकाउंट होते हैं.

एनपीएस टियर 1 और एनपीएस टियर 2.

इनमें से केवल एनपीएस टियर 1 ही रिटायरमेंट पेंशन अकाउंट है. टियर 2 अकाउंट एक म्यूच्यूअल फण्ड की तरह है. खाताधारक जब चाहे पैसे निकाल सकता है.

गौरतलब है कि एनपीएस में रिटर्न की गारंटी नहीं है और न ही सरकार हर वर्ष रिटर्न की घोषणा करती है. निवेश करते समय यह बताया जा सकता है कि पैसा कैसे निवेश करना है. एनपीएस खाता खोलने का बाद चाहें तो यह निवेश का पैटर्न बदला भी जा सकता है.
यहां पर निवेश के कई विकल्प हैं -
इक्विटी फण्ड (E) में पैसा लगाया जा सकता है
सरकारी बोंड्स (G) में पैसा लगाया जा सकता है
कॉर्पोरेट बांड्स (C) में पैसा लगाया जा सकता है
इसमें फंज मेनेजर का चयन भी करना पड़ता है.
यहां पर निवेश के दो तरीके हैं. निवेशक (E), (G) या (C) (ऊपर बताया गया है) में डाल सकता है. कॉर्पोरेट सेक्टर एनपीएस और आल सिटीजन्स मॉडल एनपीएस ग्राहकों के लिए इक्विटी फण्ड (E) में निवेश करने की सीमा अधिकतम 50% प्रतिशत है. सरकारी एनपीएस में यह सीमा 15% है.
अब एनपीएस में निवेश पर टैक्स लाभ मिलते हैं. कुछ खास स्थिति में एनपीएस से कुछ पैसा निकालने की अनुमति है. गंभीर बीमारियों की इलाज़ के लिए, बच्चों की उच्च शिक्षा या विवाह के लिए या घर खरीदने या बनाने के लिए अपने एनपीएस खाते से कुछ पैसे निकाले जा सकते हैं.

Wednesday, 18 April 2018

सरकारी हाईस्कूल और इंटर कॉलेजों के शिक्षकों की तबादला नीति जारी, राजकीय शिक्षकों के तबादलों के आवेदन 30 अप्रैल तक

सरकारी हाईस्कूल और इंटर कॉलेजों के शिक्षकों की तबादला नीति जारी, राजकीय शिक्षकों के तबादलों के आवेदन 30 अप्रैल तक
•एनबीटी ब्यूरो, लखनऊ : राजकीय हाईस्कूल और इंटर कॉलेजों के शिक्षकों के तबादलों की नीति प्रदेश सरकार ने जारी कर दी है। ऑनलाइन तबादलों के लिए आवेदन 30 अप्रैल तक किए जा सकेंगे। शिक्षकों की संख्या के 20 प्रतिशत शिक्षकों के ही तबादले होंगे। सरकार ने तबादलों के लिए जिलों को दूरी के आधार पर तीन जोन में बांटा है। तय मानकों और अंकों के आधार पर मेरिट से तबादले किए जाएंगे।
 जिला मुख्यालय से आठ किलोमीटर या म्युनिसिपल सीमा के भीतर तबादलों को पहले जोन में रखा गया है। दूसरे जोन में तहसील मुख्यालय से दो किलोमीटर की दूरी तय की गई है। तीसरे जोन में तहसील से दो किलोमीटर से ज्यादा दूरी वाले इलाके रखे गए हैं। आवेदन पत्रों में तय मानक के अनुसार अंक दिए जाएंगे। एक से ज्यादा आवेदक के अंक बराबर होने पर ज्यादा आयु वाले को वरीयता मिलेगी। आयु भी बराबर होने पर वरिष्ठता को आधार बनाया जाएगा। इंटर कॉलेजों के प्रवक्ता के लिए चार स्तर पर अंक का प्रावधान किया गया है। पति या पत्नी में से कोई सेना में है और सीमा पर कार्यरत हे तो उसके 100 नंबर मिलेंगे। इसी तरह कैंसर, एड्स, किडनी, लिवर की गंभीर बीमारी से ग्रस्त होने, 30 जून को 58 वर्ष की आयु पूरी करने वालों को 100 और पति-पत्नी दोनों के शासकीय सेवा में होने पर संबंधित जनपद में तबादले के लिए भी 100 अंक मिलेंगे। वहीं हाईस्कूल के सहायक अध्यापकों को आठ श्रेणियों में बांटा गया है। सभी आठ श्रेणियों में रखा गया है। इसमें 40 से 60 प्रतिशत विकलांगता वालों को 10 और 60 से 80 प्रतिशत विकलांगता वालों को 20 अंक दिए जाएंगे। गंभीर बीमारी पर 10, राज्य पुरस्कार प्राप्त शिक्षकों को 10, विधवा/तलाकशुदा महिला को 10, विधुर पुरुष जिसके बच्चे हों उनको 10, महिला शिक्षिका को 10, पिछली बोर्ड परीक्षा में 100 फीसदी रिजल्ट देने वाले शिक्षकों को 10 व 10 साल की नौकरी पूरी कर चुके शिक्षकों को एक अंक और अधिकतम 20 अंक दिए जाएंगे।

Friday, 13 April 2018

75 हजार से अधिक शिक्षकों की भर्ती का रास्ता साफ, हाईकोर्ट ने बेसिक शिक्षकों की भर्ती पर रोक लगाने से किया इन्कार सभी प्रक्रिया दो महीने में पूरी करने का दिया आदेश

75 हजार से अधिक शिक्षकों की भर्ती का रास्ता साफ, हाईकोर्ट ने बेसिक शिक्षकों की भर्ती पर रोक लगाने से किया इन्कार सभी प्रक्रिया दो महीने में पूरी करने का दिया आदेश

इलाहाबाद : इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बेसिक शिक्षकों की भर्ती पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया। साथ ही सभी प्रक्रिया दो महीने में पूरी करने का आदेश भी दिया है। कोर्ट ने एकल पीठ के आदेश को सही ठहराया है और बेसिक शिक्षकों की भर्ती को लेकर दाखिल राज्य सरकार की अपील खारिज कर दी है। प्रदेश में करीब 75 शिक्षक व अनुदेशकों की भर्ती का रास्ता साफ हो गया है। 1यह आदेश न्यायमूर्ति दिलीप गुप्ता और न्यायमूर्ति नीरज त्रिपाठी की खंडपीठ ने दिया है। कोर्ट के इस आदेश से 32,022 अनुदेशक, 29,334 गणित व विज्ञान शिक्षक, 16,448 बेसिक शिक्षक, 12,460 बेसिक शिक्षक और चार हजार उर्दू शिक्षकों सहित 75 हजार से ज्यादा शिक्षकों की भर्ती का रास्ता साफ हो गया है। 1राज्य सरकार ने 23 मार्च, 2017 को समीक्षा के नाम पर सभी भर्ती प्रक्रिया रोक दी थी, जिसके बाद कुलदीप सिंह व अन्य की ओर से दाखिल याचिका पर एकल पीठ ने तीन नवंबर, 2017 के आदेश से दो माह में भर्ती पूरी करने को कहा था। सरकार ने इस आदेश को चुनौती दी थी।

Monday, 2 April 2018

स्टेशन मास्टर के लिए निकली 50 हजार से अधिक पदों पर आवेदन

स्टेशन मास्टर के लिए निकली 50 हजार से अधिक पदों पर आवेदन

इंडियन रेलवे ने स्टेशन मास्टर के लिए 50000 पदों पर आवेदन आमंत्रित किया है जो अभ्यर्थी इच्छुक हैं वे इस फॉर्म को अंतिम तिथि से पहले भर सकते हैं | अधिक जानकारी के लिए इस खबर को पूरा पढ़ें |

पद का नाम : स्टेशन मास्टर

पदों की संख्या : 50000 से अधिक पद

आवेदन शुरू होने की तिथि : 4 अप्रैल 2018

आवेदन करने की अंतिम तिथि : 6 मई' 2018

आयु सीमा : न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 45 वर्ष होनी चाहिए | छूट की जानकारी के लिए नोटिफिकेशन पढ़ें।

शैक्षिक योग्यता : स्नातक डिग्री होनी चाहिए किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से

चयन प्रकिर्या : अभ्यर्थियों का चयन निम्न के आधार पर किया जायेगा
CBT 1
CBT 2
Interview

वेतन : वेतन की जानकारी के लिए नोटिफिकेशन पढ़ें ।
आवेदन शुल्क : जनरल और ओबीसी 500 रूपये और अन्य के लिए 250 रूपये

जांच में मिली क्लीन चिट, बीएसए एसके तिवारी बहाल

जांच में मिली क्लीन चिट, बीएसए एसके तिवारी बहाल
--–------------------------------------
जनपद-एटा

शिक्षामित्र द्वारा आत्महत्या किए जाने के मामले में विभिन्न आरोपों को लेकर निलंबित किए गए बीएसए एसके तिवारी को पुनः बहाली मिल गई है। उन पर लगाए गए आरोपों की जांच के बाद अधिकारियों द्वारा क्लीन चिट दिए जाने की स्थिति में यथा तैनाती निलंबन वापस लेते हुए बहाल किया गया है। 30 मार्च को वह पुन: पदभार ग्रहण करेंगे।

ज्ञात हो,-बीते महीने अवागढ़ क्षेत्र में तैनात शिक्षामित्र द्वारा आत्महत्या कर ली गई थी। आत्महत्या के पीछे *बीएसए* पर *लापरवाही* के अलावा *तमाम आरोप लगे* और *मामले* को *विधान परिषद* में *शिक्षक विधायक* जगवीर किशोर जैन ने उठा दिया।

वही *शासन* ने *आनन-फानन* में *बीएसए* एसके तिवारी को *बिना जांच* के ही 15 *फरवरी* को *निलंबित* कर दिया। उनके *निलंबन* के बाद *जनपद* के *शिक्षकों* और *शिक्षक संगठनों* ने *गलत तरीके* से किए गए *निलंबन* का *जमकर विरोध* तो किया ही, बल्कि शासन द्वारा नामित किए गए *जांच अधिकारी* एस राजलिंगम के एटा आने पर भी प्रदर्शन कर विरोध जताया तथा ज्ञापन भी दिया।

इसके *बाद* से *चल रही जांच* को *पूरा होने* के बाद *रिपोर्ट शासन* को सौंपी गई।

*जांच* में *निलंबित बीएसए* पर लगाए गए *आरोप पूरी गलत* साबित हुए, जिसके बाद उन्हें *मामले* में *क्लीन चिट* दी गई। *शासन* को *जांच रिपोर्ट* मिलने के बाद *बेसिक शिक्षा विभाग* के *विशेष सचिव देव प्रताप सिंह ने उनका निलंबन निरस्त करते हुए उन्हें पुन: जनपद में ही पद पर बहाल करने का आदेश दिया है।

आदेश की जानकारी जिला मुख्यालय पर मिलने के बाद जिले के शिक्षकों में एक खुशी की लहर दौड़ उठी।