Basic Ka Teacher.Com Welcomes you….बेसिक का टीचर. कॉम में आपका स्वागत है

Translate

Tuesday, 25 April 2017

सीएस फाउंडेशन का बदला पाठ्यक्रम

सीएस फाउंडेशन का बदला पाठ्यक्रम

जासं, कानपुर : कंपनी सेक्रेट्री के फाउंडेशन कोर्स में इस बार से बदलाव किया गया है। ऐसा परिवर्तन कंपनी सेक्रेट्री की नई जिम्मेदारियों के चलते हुआ है। 1कारपोरेट सेक्टर एवं कंपनी एक्ट में होने वाले बदलावों के चलते सीएस इंस्टीट्यूट ने फाउंडेशन प्रोग्राम में नए कोर्स को लागू कर दिया गया है। जून 2018 में होने वाली परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों को इस नए कोर्स के अनुसार ही पढ़ना होगा। जो छात्र छात्रएं जून 2017 और दिसंबर 2017 में फाउंडेशन की परीक्षा पास नहीं कर पाएंगे उन्हें जून 2018 में नए कोर्स के साथ ही रजिस्ट्रेशन कराना होगा। जून 2018 से पुराने कोर्स की परीक्षाएं नहीं कराई जाएंगी। नए कोर्स में इंस्टीट्यूट ने आर्थिक विषयों पर विशेष ध्यान दिया है। कंपनी सेक्रेट्री का पाठ्यक्रम तीन चरणों में होता है जिनमें पहला फाउंडेशन लेवल (आठ माह), दूसरा एक्जीक्यूटिव (नौ माह) और तीसरा प्रोफेशनल लेवल (नौ माह)। कंपनी सेक्रेट्री की परीक्षाएं साल में दो बार जून और दिसंबर में निर्धारित तिथि पर होती हैं और इनका परिणाम 25 अगस्त व 25 फरवरी को जारी किया जाता है। इंस्टीट्यूट आफ कंपनी सेक्रेट्री आफ इंडिया कानपुर चेप्टर के पूर्व चेयरमैन अंकुर श्रीवास्तव के मुताबिक कंपनी सेक्रेट्री का कोर्स तीन चरणों फाउंडेशन, एक्जीक्यूटिव व प्रोफेशनल में विभाजित होता है। यह पाठ्यक्रम छात्रों को पूरी तरह से ट्रेंड कर देता है। कंपनी लॉ 2013 में कंपनी सेक्रेट्री के रोल को बहुत ज्यादा बढ़ा दिया है। इसी के मद्देनजर इंस्टीट्यूट ने इस बार फाउंडेशन कोर्स में बदलाव किया है।

No comments:

Post a Comment