Basic Ka Teacher.Com Welcomes you….बेसिक का टीचर. कॉम में आपका स्वागत है

Translate

Monday, 5 December 2016

आनंद शुक्ल की हाई कोर्ट के निर्णय पर राय

सर्व प्रथम ,,परमपिता भगवान भोलेनाथ जी को प्रणाम💐🙏�🙏�🙏�🙏�साथी में सभी इष्ट मित्रो को ,,शुभ संध्या,,,,,आप सभी ने आज हाईकोर्ट के फैसले के संदर्भ में जानकारी विभिन्न साथियो के माध्यम से  प्राप्त ही कर ली होगी,,,, आप सभी को पुनः एक बात की तरफआपका ध्यान आकृष्ट करना चाहूंगा,, जैसा आप सभी जानते है कि ट्रिपल बेंच के फैसले को सीजे साहब ने बिलकुल वैसे ही लागू कर दिया ,,,इसमें उनकी बाध्यता थी वो नीति के ज्ञाता थे ,,,उन्हें पता था कि लार्जर बेंच को वो काट नही सकते ,,,संछेप में इतना की वो इस मशले को खुद सुलझाना या किसी एक पक्ष का हानि करना नही चाहते थे ,,चुकी सभी केस सुप्रीम कोर्ट में लंबित है,, जिसकी गुत्थी सुलझा पाना  उनके बस की बात नही थी ,,,
,👉अब आप ही निर्णय करिये की जिस बाध्यता में बंध कर निर्णय दिया है ,,उसमे एक बात तो साफ़ है जो सभी बुद्धिजीवी लोगो को समझ में आ ही गई होगी ,,की वो अगर हमारी भर्ती रद्द करने के मूड में होते तो कर सकटे थे,,,लेकिन उन्होंने ऐसा नही किया,,,,,क्यों???????
👉�ये सवाल लाजमी है ,,सभी साथी खुद मंथन करे ,,,
हमारे संघर्ष के सभी युवा साथियो ये ,,घडी आरोप प्रत्यारोप की नही है ,,,बल्कि हमें एक नवीन ऊर्जा के साथ सकारात्मक सोच के साथ ,,,और मन में इस  प्रण के साथ,,,इस मुहीम""" मिशन सुप्रीम कोर्ट """में तन मन धन से प्रतिशोध की  ज्वाला जलानी,,, होगी ,,,🙏�🙏�🙏�माफ़ी चाहूंगा,, सभी से ,,लेकिन कटु सत्य है ,,
सभी चयनित भाइयो आगे आइये ,,अपनी सुसुप्त मनोदशा से जागिये ,,ये भर्ती आपकी हम सबकी है ,,जिसके लिए हमारे कुछ साथी ,,,अपना सबकुछ न्योछावर करने के लिए तैयार है ,,,मित्र बस आप सभी को,,,अपनी आजीविक जिसने आपको जीने का संबल दिया ,,साथ ही उस कोख का वास्ता जिससे आपको जन्म दिया ,,,,दोनों के जीवित् रखने,, के खातिर ,,,आपको अपना हर तरीके से बलिदान करना होगा ,,वो किसी भी रूप में हो सकेगा ,,,मेरे भाइयो ,,ये समय भावुक होकर विधवा विलाप करने का नही है ,,क्योकि हम हारे ही नही है,,इतना मन में गाँठ बाँध लीजिये ,,कल भी 15 वां अल्ट्रा वायरस था आज भी तो वही है फिर ,,माथे पर पसीना क्यों???💐💐आप सभी को पुनः आश्वस्त करता हूँ,,,,ये नौकरी हमने बड़े ही संघर्ष के साथ पाई है,,अगर इसपर किसी ने आँख भी उठाई तो उसकी आँख तो छोड़िए हम उसको ही ख़त्म करने की कसम खा लेंगे,,,
👉👉मित्रो अब ये लड़ाई बड़े ही रोमांच के साथ और आमने सामने होगी,,,72हजार बनाम 80हजार,,,,,
मैंने कभी भी अपने जीवन में हार नही मानी ,,वो भी उस परम शक्ति के भरोसे पर ,,,परम पिता भोले नाथ जी के,,आशिर्बाद से,,,आज तक उन्होने अहित करने वालो का दमन ही किया है ,,,इस फाटक रूपी चांडाल का अन्तिम संस्कार हमारे ही प्रभु केहाथों होगा ,,,इसमें कोई संदेह ही नही ,🙏�🙏�🙏�
भाइयो आप से हाथ जोड़कर पुनः निवेदन है की आइये हम और आप मिलकर ,,,,उत्तर प्रदेश की शिक्षक भर्तियों को बचाने के लीये एक जुट हो ,,हम कसम खाते है,,,,अपने आजीविका और मान सम्मान के लिए कुछ भी कुर्बान करने के लिए तैयार हूँ,,,आप भी हमारी ऊर्जावान टीम का हैशाला बढाइये,,, हमारा सहयोग,,दीजिये,,भरोसा आपको दिलाता हूँ,,,आपके साथ कुछ भी अन्याय होने नही दूंगा,,,🙏�🙏�🙏�🙏�🙏�🙏�💐💐💐
आपका शुभेक्षु,,,आनन्द शुक्ला✍चंद लाइने,,
स्मशान के बाहर लिखा था
मंजिल तो तेरी यही थी,
बस जिन्दगी गुजर गई आते आते.
क्या मिला तुझे इस दुनिया को सता के,
अपनों ने ही जला दिया तुझे जाते जाते,,,,जय jrt एकता👍👍👍💐💐💐💐

No comments:

Post a Comment